Homeफीचर्डवो दिन दूर नहीं जब देश के लिए खेलना शर्म की बात...

संबंधित खबरें

वो दिन दूर नहीं जब देश के लिए खेलना शर्म की बात समझेंगे क्रिकेटर, जेसन रॉय ने छोड़ा अपने देश का साथ?

क्रिकेट अब धीरे-धीरे फुटबॉल की राह पर चल पड़ा है। फुटबॉल में होने वाले विभिन्न लीग्स से प्रेरित होकर साल 2008 में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने इंडियन प्रीमियर लीग की शुरुआत की।इस समय IPL का 16वां सीजन खेला जा रहा है। जहां इस लीग से ढेर सारी सकारात्मक चीजें निकल कर सामने आई है, वहीं इसका दुष्प्रभाव भी देखने को मिल रहा है।भारत में आयोजित होने वाले IPL के तर्ज पर दुनिया भर के विभिन्न देशों में छोटे-छोटे क्रिकेट लीग्स का आयोजन किया जाने लगा है। जिसमें प्रतिभाग करने वाली फ्रेंचाइजियां खिलाड़ियों पर बेशुमार दौलत लुटाने को तैयार हैं।

जिस कारण खिलाड़ियों में अपने देश के लिए खेलने का स्वदेश प्रेम भी खत्म हो रहा है और वह पैसे की लालच में अपने बोर्ड के साथ सेंट्रल कांट्रैक्ट तोड़ने को भी तैयार हो जा रहे हैं। अगर यह ऐसा ही होता रहा तो अधिक पैसे कमाने की लालच में सभी देशों के स्टार खिलाड़ी लीग्स में हिस्सा लेते हुए नजर आएंगे। जबकि औसत दर्जे के प्लेयर अपनी राष्ट्रीय टीम के लिए खेलेंगे। इसका ताजातरीन उदाहरण इंग्लैंड क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय के साथ देखने को मिला है।

अपने बोर्ड से रिश्ता तोड़गें राय

इंग्लैंड के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) के साथ अपने सेंट्रल कांट्रैक्ट को रद्द करने के कगार पर हैं। जेसन रॉय संयुक्त राज्य अमेरिका में मेजर लीग क्रिकेट के आगामी सत्र में लॉस एंजिल्स नाइट राइडर्स के साथ दो साल के सौदे पर हस्ताक्षर करने के पक्ष में है। हालांकि यह जेसन रॉय को एक बड़ा अवसर ज़रूर प्रदान कर रहा है। परंतु इसमें जेसन रॉय द्वारा आगामी वनडे वर्ल्ड कप 2023 के बहिष्कार की बू भी आ रही है।यदि जेसन रॉय लॉस एंजिल्स नाइट राइडर्स के साथ अनुबंध पर अमल करते हैं तो वह अपनी राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के पहले खिलाड़ी बन जाएंगे, जिन्होंने दुनिया भर में टी 20 लीग पर ध्यान केंद्रित करने के लिए अपने केंद्रीय अनुबंध से दूर होने का निर्णय लिया है।

लॉस एंजिलिस नाइट राइडर्स ने जेसन रॉय को 3.68 करोड़ रुपये में दो साल के करार करने में इंटरेस्ट दिखाई है। जो जेसन रॉय के करियर को दूसरी दिशा में ले जा सकता है।USA की मेजबानी में मेजर लीग क्रिकेट का आयोजन आगामी 13 जुलाई से 30 जुलाई के बीच होने वाला है। जिसमें जेसन रॉय अपनी प्रतिभा का जलवा दिखाते हुए नजर आएंगे।

इंग्लैंड टीम के बिखर जाने का खतरा

हाल ही में इंग्लैंड के कुछ वेबसाइट ने इस बात को लेकर अपने बोर्ड को आगाह किया था कि, कई इंग्लिश क्रिकेटर इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के साथ अपना सेंट्रल कांट्रैक्ट तोड़ सकते हैं और वह दुनिया भर में विभिन्न फ्रेंचाइजियों के लिए खेलते हुए नजर आएंगे। उस दौरान तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर को लेकर यह संभावना जताई जा रही थी कि मुंबई इंडियंस इस गेंदबाज के साथ बड़ा कांट्रैक्ट करके हमेशा के लिए अपने साथ जोड़ सकती है। इसके अलावा इंग्लैंड के कई अन्य स्टार खिलाड़ियों को लेकर भी ऐसी ही चर्चाएं थी। परंतु अब सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय सेंट्रल कांट्रैक्ट तोड़ने वाले पहले खिलाड़ी बनने की प्रक्रिया में नजर आ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय