HomeUncategorized'ई का हो, मुंह फोड़बा का…?' जैसे डायलॉग से Bhojpuri Commentry लूट...

संबंधित खबरें

‘ई का हो, मुंह फोड़बा का…?’ जैसे डायलॉग से Bhojpuri Commentry लूट रही महफिल, IPL 2023 के भोजपुरी कमेंटेटरों में कौन-कौन शामिल?

इंडियन प्रीमियर लीग के 16वें सीजन का रोमांच शुरू हो चुका है। इस टूर्नामेंट में अभी तक कुल 5 मुकाबले खेले गए हैं। जिससे क्रिकेट के प्रशंसक काफी रोमांचित है। IPL 2023 में फैंस को गेंद और बल्ले का रोमांच देखने को तो मिल ही रहा है परंतु कई भाषाओं में हो रही कमेंट्री इंटरटेनमेंट में चार चांद लगा रही है। वैसे तो इंडियन प्रीमियर लीग की कमेंट्री हिंदी,अंग्रेजी के साथ 12 क्षेत्रीय भाषाओं में किया जा रहा है। परंतु महफिल लूटने में भोजपुरी भाषा अग्रिम भूमिका निभा रही है।

भोजपुरी का जलवा

दरअसल IPL के इतिहास में पहली बार सभी मैचों का प्रसारण भोजपुरी भाषा में भी किया जा रहा है। इससे पहले IPL की कमेंट्री सिर्फ 6 भाषाओं में की जाती थी। परन्तु अबकी बार जियो सिनेमा पर IPL की कमेंट्री कुल 12 भाषाओं में की जा रही हैं। हिंदी, अंग्रेजी, मराठी, तेलुगु, तमिल और कन्नड़ जैसी भाषाओं में क्रिकेट की कमेंट्री सुनकर प्रशंसक काफी प्रफुल्लित हैं। लेकिन भोजपुरी का फ्लेवर उत्तर भारतीयों को ज्यादा लुभा रहा है। ऐसे में लोग यह जानने के लिए उत्सुक हैं कि आखिर भोजपुरी के कॉमेंटेटरों का क्या नाम है जो मनोरंजन को सातवें आसमान पर पहुंचा रहे हैं।

भोजपुरी कमेंटेटर्स की लिस्ट:-

मोहम्मद सैफ,शिवम सिंह,सत्य प्रकाश,गुलाम हुसैन,सौरभ वर्मा,कुणाल आदित्य सिंह,विशाल आदित्य सिंह,स्नेह उपाध्याय, डिम्पल सिंह।

रवि किशन भी बिखेर रहे जलवा

IPL 2023 की कमेंट्री का भोजपुरी में आनंद ले रहे दर्शकों को बीच-बीच में भोजपुरी अभिनेता और बीजेपी सांसद रवि किशन के द्वारा भी कमेंट्री सुनने का अवसर मिल रहा है। भोजपुरी अभिनेता रवि किशन का कमेंट्री सोशल मीडिया पर काफी वायरल है। जिसमें वह “ई का हो, मुंह फोड़बा का…?” तो कभी “जियs जवान जियs…लहि गईल-लहि गईल” एवं “अउर हई देखबा” जैसे वाक्यांश का प्रयोग करते हुए दर्शकों का मनोरंजन कर रहे हैं।

आपको बता दें, रवि शास्त्री जियो सिनेमा पर नियमित कमेंटेटर नही हैं। उन्होंने सांसद समेत अपनी अन्य जिम्मेदारियों का वाहन करने के चलते सिर्फ वीकेंड्स पर कमेंट्री करने का करार किया है। उनका कहना है कि पूरे देश में करीब 25 करोड़ लोग भोजपुरी बोलते और समझते हैं। इसलिए अपनी मातृभाषा के प्रमोशन के लिए वह अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय